एक October से बदल रहे हैं ये 5 नियम, इन लोगों को देना होगा जिंदा होने का सबूत!

bank, sebi, debit card, credit card

Today Business: एक October से 5 नियमों में बदलाव होने जा रहा है… इन बदलाव के बाद आपके दैनिक जीवन पर इसका सीधा असर पड़ेगा… नए नियमों के लागू होने के बाद वित्तीय, बैंकिंग और शेयर बाजार से जुड़े काम के तरीकों में भी बदलाव हो जाएंगे… जिसके तहत पेंशन जारी रखने के लिए 80 साल और उससे ज्यादा उम्र के पेंशन लेने वालों को जिंदा रहने का सबूत जमा करना होगा… साथ ही वहीं, बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थाओं को Auto डेबिट के लिए अब ग्राहकों की मंजूरी लेना अनिवार्य होगा…  

80 साल से ज्यादा उम्र के पेंशनधारकों को देना होगा जिंदा रहने का सबूत

एक October से 80 साल या उससे अधिक उम्र के पेंशनधारकों को अपने जिंदा रहने का सबूत देना होगा… जिसके तहत डिजिटल जीवन प्रमाण पत्र जमा करने की सुविधा मिलेगी… इसके लिए 30 नवंबर 2021 तक का वक्त दिया गया है… ये प्रमाण पत्र देश के संबंधित डाकघरों के जीवन प्रमाण केंद्रों में जमा करना होगा…  जीवन प्रमाण पत्र पेंशनभोगी के जिंदा होने का सबूत होता है… पेंशन जारी रखने के लिए इसे हर साल उस बैंक या वित्तीय संस्थान में जमा करना होगा,  जहां पेंशन आती है…

Auto Debit के लिए ग्राहकों की मंजूरी होगी जरूरी

Debit/Credit कार्ड से होने वाले Auto डेबिट के लिए नया नियम लागू होने जा रहा है… RBI के आदेश के अनुसार, एक अक्टूबर से बैंकों और अन्य वित्तीय संस्थाओं को डेबिट/क्रेडिट कार्ड या मोबाइल Willet पर 5 हजार से ज्यादा के Auto डेबिट के लिए ग्राहकों से एडिशनल फैक्टर ऑथेंटिकेशन की मांग करनी होगी… इसके तहत, डेबिट/क्रेडिट कार्ड या मोबाइल वॉलेट से होने वाले ऑटो डेबिट तब तक नहीं होंगे, जब तक ग्राहक अपनी मंजूरी न दें…. मंजूरी के लिए बैंकों या वित्तीय संस्थाओं को 24 घंटे पहले ग्राहकों के पास ऑटो डेबिट का मैसेज भेजना होगा… ऑटो डेबिट अगर सीधा बैंक खाते से होता है तो नए नियम का कोई प्रभाव नहीं पड़ेगा…

चेकबुक होगी बंद, 3 बैंकों के उपभोक्ताओं पर होगा असर

एक October से से 3 बैंकों ओरिएंटल बैंक (Oriental Bank) ऑफ कॉमर्स,  यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया (United Bank of India) और इलाहाबाद बैंक (Allahabad Bank) के पुराने चेकबुक, MICR (मैग्नेटिक इंक कैरेक्टर रिकग्निशन) और IFS (इंडियन फाइनेंशियल सिस्टम) कोड मान्य नहीं रहेंगे… इलाहाबाद बैंक का इंडियन बैंक (Indian Bank) में विलय हो चुका है, जो 1 अप्रैल, 2020 से प्रभावी है… ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स और यूनाइटेड बैंक ऑफ इंडिया का विलय पंजाब नेशनल बैंक में हुआ है… इन तीनों बैंकों के ग्राहकों को 30 सितंबर तक नए चेकबुक लेने को कहा गया है…

दिल्ली में नहीं खुलेंगी निजी शराब दुकानें

दिल्ली में एक अक्टूबर से लेकर 16 नवंबर, 2021 तक निजी शराब की दुकानें नहीं खुलेंगी… नया नियम केंद्रशासित प्रदेशों की एक्साइज नीति के तहत लागू होने जा रहा है… इस अवधि में सिर्फ सरकारी शराब की दुकानें ही खुली रहेंगी… 17 नवंबर, 2021 से निजी शराब की दुकानें फिर खुलने लगेंगी…

सेलरी का 10% निवेश होगा जरूरी

ऐसे जूनियर कर्मचारी जो एसेट मैनेजमेंट कंपनियों में काम करते हैं उन्हें  म्यूचुअल फंड की इकाई में अपने ग्रॉस वेतन का 10% भाग Invest करना होगा… भारतीय विनिमय एवं प्रतिभूति बोर्ड (SEBI) ने इस बारे में नया नियम एक अक्टूबर, 2021 से लागू करने का फैसला किया है… अक्टूबर, 2023 से निवेश की मात्रा को 10 से बढ़ाकर 20 फीसदी कर दिया जाएगा…  

  

  • https://todayxpress.com
  • 1 COMMENT

    LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here