जानिए कौन है कैप्टन अमरिंदर सिंह की पाकिस्तानी मित्र अरूसा आलम?

कौन है अरूसा आलम
कौन है अरूसा आलम

कौन है कैप्टन अमरिंदर सिंह की पाकिस्तानी मित्र अरूसा आलम?

अब सवाल ये उठता है कि पाकिस्तान की जिस महिला पत्रकार ने पंजाब की सियासत में घमासान मचाया हुआ है आखर वो है कौन, दरअसल पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की पाकिस्तानी मित्र अरूसा आलम को लेकर पंजाब की सियासत गर्म है, पंजाब सरकार ने अरूसा के पाकिस्तान की खुफिया एजेंसी ISI से कनेक्शन की जांच करने को कहा है…

कौन है अरूसा आलम?

अरूसा आलम पाकिस्तान की पूर्व डिफेंस जर्नलिस्ट हैं, और पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की दोस्त हैं, अरूसा शादीशुदा हैं और उनके दो बच्चे भी हैं, वह भारत को लेकर काफी एक्साइटेड रहती है, अक्सर वह कैप्टन अमरिंदर के चंडीगढ़ स्थित आवास पर आती रही हैं, हालांकि वह पटियाला स्थिति कैप्टन अमरिंदर सिंह के घर नहीं जाती क्योंकि कैप्टन के परिवार वाले इससे नाखुश हैं, अरूसा आलम उन VVIP मेहमानों में से एक थीं जिनके लिए कैप्टन अमरिंदर के शपथ ग्रहण समारोह में विशेष इंतजाम किया गया था… हालांकि कैप्टन अमरिंद सिंह की पत्नी परनीत कौर ने इस मामले पर कभी कुछ नहीं बोला, ये अलग बात है कि अरूसा आलम भारत आने पर कभी भी पटियाला नहीं जाती…

अकील अख्तर की बेटी है अरूसा आलम

अरूसा आलम 1970 के दशक में पाकिस्तान की राजनीति में दखल रखने वालीं सोशलाइट अकील अख्तर की बेटी है, कहा जाता है कि अरूसा की मां की पाकिस्तान के सैन्य प्रतिष्ठान में अच्छी पकड़ थी, और इसी कारण उन्हें ‘रानी जनरल’ कहा जाता था, अरूसा आलम को पाकिस्तान की सेना में अपनी मां के नेटवर्क का फायदा मिला, वह जर्नलिस्ट के तौर पर पाकिस्तान सेना पर रिपोर्टिंग करती रही, वह अगस्ता-90बी पनडुब्बी सौदों पर अपनी रिपोर्ट के लिए जानी जाती हैं, जिसके चलते 1997 में पाकिस्तान के तत्कालीन नौसेना प्रमुख मंसूरुल हक की गिरफ्तारी भी हुई थी…

कैप्टन की अरूसा आलम से मुलाकात

दरअसल पूर्व डिफेंस जर्नलिस्ट अरूसा आलम (Aroosa Alam) की कैप्टन अमरिंदर सिंह से मुलाकात साल 2004 में पाकिस्ता्न यात्रा के दौरान हुई थी, अरूसा का कैप्टकन अमरिंदर के घर पर नियमित आना-जाना रहा है और वह अमरिंदर सिंह के शपथ ग्रहण समारोह में मौजूद रहीं थी…

साल 2018 में सामने आया नाम

अरूसा आलम का नाम 2018 में सुर्खियों में सामने आया, इसकी वजह बने नवजोत सिंह सिद्धू, दरअसल नवजोत सिंह सिद्धू ने इस्लामाबाद जाकर और पाकिस्तानी सेना प्रमुख को गले लगाकर भारत-पाकिस्तान के राजनयिक संबंधों को सुर्खियों में ला दिया था… जिस पर पंजाब के तत्कालीन सीएम अमरिंदर सिंह ने नाराजगी जाहिर कर कहा था कि सिद्धू को पाकिस्तानी जनरल कमर जावेद बाजवा को गले नहीं लगाना चाहिए था, लेकिन उसी समय लेखिका शोभा डे ने काह था कि सिद्धू के एक जट को गले लगाने को लेकर इतना हंगामा क्यों है? जब हमें कैप्टन अमरिंदर सिंह की दोस्त अरूसा आलम को लेकर कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन सिद्धू ने पाकिस्तान का दौरा किया तो हंगामा खड़ा हो गया…

कैप्टन से दोस्ती को बताया था खूबसूरत

साल 2007 में पहली बार अरूसा आलम का नाम कैप्टन अमरिंदर सिंह से जुड़ा, दोनों को कई बार एक साथ देखा गया, लेकिन अरूसा आलम ने साफ किया कि वे दोनों सिर्फ दोस्त हैं, कैप्टन की बायोग्राफी ‘द पीपल्स महाराजा’ में अरूसा आलम के साथ उनके रिश्तों पर एक चेप्टर भी है, जिस पर अरूसा ने कहा कि अमरिंदर सिंह के साथ उनकी दोस्ती खूबसूरत है और उन्हें इस रिश्ते पर गर्व है…


 यह भी पढ़ें-

 पाकिस्तान की इस महिला पत्रकार ने मचाया पंजाब की सियासत में घमासान!

  • https://todayxpress.com
  • LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here