सिद्धू के इस्तीफे के बाद पंजाब में कांग्रेस का संकट फिर गहरा गया, सिद्धू को मनाने की मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को सौंपी गई जिम्मेदारी

प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष पद से नवजोत सिंह सिद्धू के इस्तीफे के बाद पंजाब में कांग्रेस का संकट फिर गहरा गया है। पार्टी इस संकट को जितना सुलझाने की कोशिश की है यह उतना ही पेचीदा होता गया। विधानसभा चुनाव से पहले सिद्धू का यह बागी तेवर कांग्रेस को नुकसान पहुंचा सकता है। उन्हें मनाने के लिए पार्टी की तरफ से लगातार कोशिशें की जा रही हैं। सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस आलाकमान ने सिद्धू को मनाने की जिम्मेदारी मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को सौंपी है। पहले यह चर्चा थी कि सिद्धू को मनाने के लिए प्रदेश के प्रभारी हरीश रावत चंडीगढ़ जा सकते हैं लेकिन अब यह कहा जा रहा है कि रावत अब नहीं जाएंगे। मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कैबिनेट की अहम बैठक बुलाई है। समझा जाता है कि सिद्धू की नाराजगी दूर करने के लिए इस बैठक में कुछ फैसले लिए जा सकते हैं।मंगलवार दोपहर बाद सिद्धू ने अपना इस्तीफा देकर सभी को चौंका दिया। उनका यह इस्तीफा ऐसे समय हुआ जब दिल्ली में कांग्रेस दफ्तर में पूर्व छात्र नेता कन्हैया कुमार शामिल होने जा रहे थे। सिद्धू के इस्तीफे ने कांग्रेस के इस कार्यक्रम का रंग फीका कर दिया। सिद्धू की नाराजगी के पीछे कई बातें कही जा रही हैं। बताया जाता है कि सिद्धू चन्नी सरकार में अपने गुट के लोगों को नियुक्त कराना चाहते थे लेकिन सीएम चन्नी ने उनकी नहीं सुनी। मंत्रिमंडल में अपनी पसंद के नेताओं की जगह न मिलने और डीजीपी की नियुक्ति से भी सिद्धू नाराज बताए जा रहे हैं।कांग्रेस सिद्धू को मनाने के लिए प्रयास कर रही है। पार्टी ने अभी उनका इस्तीफा स्वीकार नहीं किया है। उन्हें मनाने की देर रात तक कोशिशें हुईं। चन्नी सरकार के दो मंत्री परगट सिंह और अमरिंदर सिंह राजा ने उनसे मुलाकात की। परगट सिंह का कहना कि एक-दो मुद्दें हैं जिन्हें लेकर विवाद है, इन मुद्दों को सुलझा लिया जाएगा। सिद्धू के इस्तीफे के बाद मंत्री रजिया सुल्ताना ने भी पूर्व क्रिकेटर के साथ एकजुटता व्यक्त करते हुए अपना इस्तीफा दे दिया। पंजाब की कांग्रेस इकाई के महासचिव योगिन्दर ढिंगरा और कोषाध्यक्ष गुलजार इंदर चहल ने भी अपने पदों से इस्तीफा दे दिया है।

  • https://todayxpress.com
  • LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here