चुनाव करीब आते ही बीजेपी को लगा बड़ा झटका, एक मंत्री सहित तीन विधायकों ने छोड़ा बीजेपी का दामन…

चुनाव करीब आते ही बीजेपी को लगा बड़ा झटका, एक मंत्री सहित तीन विधायकों ने छोड़ा बीजेपी का दामन...
चुनाव करीब आते ही बीजेपी को लगा बड़ा झटका, एक मंत्री सहित तीन विधायकों ने छोड़ा बीजेपी का दामन...

चुनाव करीब आते ही बीजेपी को लगा बड़ा झटका, एक मंत्री सहित तीन विधायकों ने छोड़ा बीजेपी का दामन…


Report By- Amir Hayat


उत्तर प्रदेश- उत्तर प्रदेश 2022 विधानसभा चुनाव की घोषणा के बाद ही बीजेपी को लगातार झटके लग रहे हैं ऐसे में एक बड़ी खबर और सामने आ रही है. उत्तर प्रदेश सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य सहित तीन विधायकों ने छोड़ा बीजेपी का दामन स्वामी प्रसाद मौर्या ने ट्वीट कर दी इसकी जानकारी.

यूपी की गवर्नर को भेजे लेटर में स्वामी प्रसाद मौर्य ने लिखा कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के मंत्रिमंडल में श्रम एवं सेवायोजन व समन्वय मंत्री के रूप में विपरीत परिस्थितियों व विचारधारा में रहकर भी बहुत ही मनोयोग के साथ उत्तरदायित्व का निर्वहन किया है किंतु दलितों, पिछड़ों, किसानों बेरोजगार नौजवानों एवं छोटे- लघु एवं मध्यम श्रेणी के व्यापारियों की घोर उपेक्षात्मक रवैये के कारण उत्तर प्रदेश के मंत्रिमंडल से मैं इस्तीफा देता हूं.

खबरों के मुताबिक योगी सरकार में कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के बाद ही उनके समर्थन में तीन विधायकों ने और छोड़ी भाजपा. उत्तर प्रदेश की राजनीति में ये एक बड़ा फेरबदलाव है कैबिनेट मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के बाद बांदा जिले की ंितंदवारी विधानसभा से विधायक ब्रजेश प्रजापति, शाहजहांपुर की तिलहर सीट से विधायक रोशनलाल वर्मा और कानपुर के बिल्हौर से विधायक भगवती सागर ने दिया भाजपा को झटका.

वहीं कैबिनेट पद से इस्तीफा देने के बाद स्वामी प्रसाद मौर्य ने सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष व पूर्व मुख्यमंत्री उत्तर प्रदेश अखिलेश यादव से मुलाकात कर सपा ज्वाइन करी, खबर आ रही है स्वामी प्रसाद के बाद तीन विधायक भी हो सकते हैं सपा में शामिल. स्वामी प्रसाद मौर्य से मुलाकात के बाद अखिलेश यादव ने किया ट्वीट “समाजिक न्याय और समता-समानता की लड़ाई लड़ने वाले लोकप्रिय नेता श्री स्वामी प्रसाद मौर्या जी एवं उनके साथ आने वाले अन्य सभी नेताओं, कार्यकर्ताओं और समर्थकों का सपा में सम्मान हार्दिक स्वागत एवं अभिंनदन.”

वहीं उत्तर प्रदेश के उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्या ने ट्वीट कर स्वामी प्रसाद मौर्य पर साधा निशाना कहा, जल्द बाजी में लिये हुए फैसले अक्सर गलत होते हैं
आखिर स्वामी प्रसाद मौर्या ने किन कारणों से छोड़ी भाजपा-
पिछले दिनों स्वामी प्रसाद मौर्य की बेटी व बदायूं से सांसद संघमित्रा मौर्य लखनऊ के बीजेपी कार्यक्रम में जब बोलने के लिए खड़ी, उसी दौरान टोका-टोकी की गई थी. संघमित्रा मौर्य ने उसी दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह के सामने ही अपनी नाराजगी जाहिर करते हूए माइक छोड़ दिया था. यह बीजेपी का मौर्य-कुशवाहा-सैनी समाज का सम्मेलन था. हालांकि बाद में उन्हें मना कर वापस भाषण देने के लिए कहा गया. इसी दिन तय हो गया था कि स्वामी प्रसाद मौर्य अब ज्यादा दिन बीजेपी में नहीं रहेंगे.

वहीं, स्वामी प्रसाद मौर्य के बेटे उत्कृृष्ट मौर्य रायबरेली जिले की ऊंचाहार सीट से पिछले बार भाजपा के टिकट पर चुनाव लड़े. हालांकि बहुत कम अंतर से वह सपा से चुनाव हार गये थे. ऊंचाहार में उन्हें न तो बीजेपी संगठन का साथ मिला था और न ही संघ के लोग उनकी मदद कर सके थे. बीजेपी का हार्डकोर वोटर माने जाने वाले ठाकुर और ब्राह्मण समाज का वोट उत्कृृष्ट मौर्य को नहीं मिला था.

  • https://todayxpress.com
  • LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here