नवरात्रि में भूलकर भी न करें ये गलतियां, नहीं तो माता रानी हो जाएंगी नाराज…

नवरात्रि में भूलकर भी न करें ये गलतियां, नहीं तो माता रानी हो जाएंगी नाराज...
नवरात्रि में भूलकर भी न करें ये गलतियां, नहीं तो माता रानी हो जाएंगी नाराज...

नवरात्रि में भूलकर भी न करें ये गलतियां, नहीं तो माता रानी हो जाएंगी नाराज…


Report By- Vanshika Singh


Navratri / नवरात्रि- नवरात्र में किन बातों का रखें ध्यान, नवरात्र क्या-क्या बरते सावधानियां ताकि माता रानी नो हो नाराज. ऐसे वो कौन से कार्य हैं जो इन नौ दिनों में करने से बचना चाहिए. दरअसल 9 दिनों तक चलने वाले नवरात्रों का खास महत्व माना जाता है. इस दौरान अलग-अलग स्वरूपों में मां दूर्गा को नौ रुपों की पूजा की जाती है. ऐसे में अगर आप भी नवरात्रि का व्रत रखते हैं या रखना चाहते हैं तो आपको कुछ नियमों का पालन करना बेहद जरूरी है. चलिए आपको बताते हैं नवरात्र में क्या करें और क्या ना करें.

नवरात्रि में नौ दिनोम के व्रत रखने वालों को दाढ़ी-मूंछ और बाल नहीं कटवाने चाहिए.

नवरात्रि के दौरान हल्का और सात्विक भोजन करना चाहिए. इस दौरान खाने में प्याज, लहसुन और नॉन वेज बिल्कुल न खाएं. क्योंकि ये तामसिक भोजन की श्रेणी में आते हैं.

नौ दिन का व्रत रखने वालों को काले रंग के कपड़े नहीं पहनने चाहिए. इस दौरान सिलाई-कढ़ाई जैसे काम भी नहीं करने चाहिए.

नवरात्र के दौरान नाखून काटने सभी बचना चाहिए. इसलिए नवरात्र शुरू होने से पहले ही नाखून काट लेने चाहिए.

व्रत में शारीरिक और मानसिक दोनों ही तरह से संयम जरूरी है. विष्णु पुराण के अनुसार, नवरात्रि व्रत के समय तम्बाकू चबाने और शारीरिक संबंध बनाने से भी व्रत का फल नहीं मिलता है. यानी इस समय ब्रह्मचर्य का पालन करना चाहिए.

नवरात्र में व्रत रखने वाले लोगों को बेल्ट, चप्पल-जूते, बैग जैसी चमड़े की चीजों का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए.

अगर आप नवरात्रि में कलश स्थापना कर रहे हैं, माता की चौकी का आयोजन कर रहे हैं या अखंड ज्योति जला रहे हैं तो इन दिनों तक घर को खाली नहीं छोड़ना चाहिए. साथ ही पूजा घर को गंदा नहीं रखें. बिना दीपक जलाए कभी भी शक्ति की पूजा नहीं की जाती.

नवरात्र के दौरान आप चाहे व्रत रख रहे हों या नहीं, बिना स्नान किए भोजन ग्रहण नहीं करना चहिए. स्नान के बाद दुर्गा मां की पूजा करें और फिर भोजन ग्रहण करें. विष्णु पुराण के मुताबिक, नवरात्रि व्रत के समय दिन में नहीं सोना चाहिए. नौ दिन का व्रत रखने वालों को गंदे और बिना धुले कपड़े नहीं पहनने चाहिए. व्रत रखने वालों को नौ दिन तक नींबू नहीं काटना चाहिए. व्रत में नौ दिनों तक खाने में अनाज और नमक का सेवन नहीं करना चाहिए. अगर फलाहार ले तो एक ही जगह पर बैठकर ग्रहण करें. चालीसा, मंत्र या सप्तशती पढ़ रहे हैं तो पढ़ते हुए बीच में दूसरी बात बोलने या उठने की गलती कतई ना करें. इससे पाठ का फल नकारात्मक शक्तियां ले जाती हैं.

तो नवरात्रि में भूलकर भी ये गलतियां ना करें अन्यथा माता रानी हो नाराज हो जाएंगी और आपको व्रत का लाभ नहीं मिल पाएगा.

  • https://todayxpress.com
  • LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here