न कोई लक्षण न कोई दवा, बिना इलाज के दी ओमिक्रॉन को मात।

न कोई लक्षण न कोई दवा, बिना इलाज के दी ओमिक्रॉन को मात।

न कोई लक्षण न कोई दवा, बिना इलाज के दी ओमिक्रॉन को मात।


रिपोर्ट: अनुष्का सिंह


नई दिल्ली: कोरोना ने देश और दुनिया की रीढ़ तोड़ कर रख दी। ऐसी दहशत फैलाई की दुनिया शोक में डूब गई। अभी तक देश कोरोने के कहर से सही से संभला भी नही पाया था कि कोरोने के नये वेरियेंट ने आकर फिरसे दहशद मचा दी है। अब यह नया वेरिएंट देश में भी ऐंटर कर चुका है और अपना तांडव मचा रहा है। कोरोना की ही तरह ओमिक्रॉन का इलाज भी एक चुनौती है। जहाँ एक तरफ वैक्सीनेशन की दोनों डोज़ और इलाज के बावजूद लोग इसके आगे हार मान लेते है, तो वहीं एक व्यक्ति ने बिना किसी इलाज और दवा के ओमिक्रॉन को मात दे दी।

दिल्ली के रोहिणी निवासी साहिल ठाकुर नाम का एख शख्स पिछले दिनों ओमिक्रॉन से संक्रमित हो गया था। लेकिन अब वो बिल्कुल ठीक और तंदुरुस्त है। उसने बताया कि ना उसे कोई लक्षण नजर आया और न ही उसने ठीक होने के लिए कोई दवा ली। साहिल ने बताया कि वो कुछ दिनो पहले दुबई होकर आया है। जब वह दुबई से लौट रहा था तब वापस आते वक्त इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर वह कोरोना पॉजीटिव पाया गाया। उसने बताया कि 4 दिसंबर को जब वह दुबई में था तो वहां उसने RT-PCR टेस्ट कराया था जिसमे उसकी रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। लेकिन दिल्ली आने पर वो कोरोना पॉजीटिव निकला। उसका कहना है कि उसमे कोई भी लक्षण नहीं थे।

 

साथ ही साहिल ने बताया कि उसकी रिपोर्ट 2 बार निगेटिव आयी लेकिन वो फिर भी क्वारंटीन था। उनका पूरा परिवार आइसोलेशन मे रहा और परिवार का कोई भी दूसरा सदस्य कोरोना संक्रमित नही हुआ। दिल्ली में रिपोर्ट पॉजीटिव आने के बाद उसके सैंपल को जीनोम सीक्वेंसिंग के लिए भेजा गया था। ओमिक्रॉन की रिपोर्ट आने तक उसे होमक्वारंटीन रहना पडा था। तीन दिन बाद उसे कॉल करके जानकारी दी गई कि वो ओमिक्रॉन से संक्रमित हैं जिसके बाद उसे लोकनायक हॉस्पीटल ले जाया गया।

साहिल ने बताया कि हॉस्पीटल में ओमिक्रॉन के 40 से 45 मरीज थे और किसी में कोई लक्षण नहीं थे। न उसे बुखार था न हीं कोई और लक्ष्ण। उसने बताया कि वो कोरोना वैक्सीन की दोंनो डोज ले चुका है। उसका कहना है कि न उसे कोई लक्षण है और न ही उसने ठीक होने के लिए कोई दवाई ली है।

  • https://todayxpress.com
  • LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here