दक्षिण अफ्रीका के डॉक्टरों ने बताया ओमीक्रॉन के मरीजों को साँस लेने मैं कितनी दिक्कत , और मौत का है कितना खतरा ,

दक्षिण अफ्रीका के डॉक्टरों ने बताया ओमीक्रॉन के मरीजों को साँस लेने मैं कितनी दिक्कत

दक्षिण अफ्रीका के डॉक्टरों ने बताया ओमीक्रॉन के मरीजों को साँस लेने मैं कितनी दिक्कत , और मौत का है कितना खतरा


रिपोर्ट: अमित सोनी


Omicron Coronavirus: कोरोना वायरस के नए वैरिएंट ओमीक्रॉन के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं इस बीच दक्षिण अफ्रीका के ओमिक्रॉन एपिसेंटर में एक बड़े अस्पताल का शुरुआती डेटा बताता कि यहां कोविड-19 संक्रमितों की संख्या भी बढ़ी है, लेकिन मरीजों को गंभीर रूप से मेडिकल सहायता की कम ही जरूरत पड़ रही है साउथ अफ्रीकन मेडिकल रिसर्च काउंसिल और स्टीव बाइको अस्पताल में इंफेक्शियस डिसीज डॉक्टर फरीद अब्दुल्लाह ने इन मरीजों में दिख रहे लक्षणों को बारीकी से ऑब्जर्व किया है. डॉ. अब्दुल्ला ने बताया है कि ओमिक्रॉन से संक्रमित मरीजों में ऑक्सीजन से जुड़ी दिक्कत ना के बराबर दिख रही है , और डॉ. अब्दुल्ला और उनकी टीम अभी ये साक्ष्य नहीं जुटा पाई है कि संक्रमण के सभी नए मामले ओमिक्रॉन वैरिएंट के हैं लेकिन फिर भी अनुमान लगाया जा सकता है कि इस डेटा से जुड़े मामले नए वैरिएंट के संक्रमण के हो सकते हैं…

 

कोविड-19 वॉर्ड में दाखिल अधिकांश मरीजों को ऑक्सीजन की जरूरत नहीं पड़ी, जैसा कि पिछली लहर में देखा गया था. 2 दिसंबर को कुल 38 मरीजों को भर्ती किया गया हैं जिसमे  6 वैक्सीनेटेड, 24 अनवैक्सीनेटेड और 8 ऐसे लोग भी थे जिन्हे वैक्सीनेशन स्टेटस की कोई जानकारी नहीं थी, वैक्सीनेट केवल एक शख्स को ही ऑक्सीजन पर रखा गया. हालांकि, फेफड़ों में पल्मोनरी डिसीज के चलते इलाज की जरूरत पड़ी. इन दो सप्ताह के भीतर 2 लोगों को इनटेंसिव केयर में रखने की जरूरत पड़ी. कोविड वॉर्ड में भर्ती मरीजों कि संख्या 19 प्रतिशत 9 साल से ज्यादा उम्र के बच्चे थे. और 28 फीसद मरीजों की उम्र 30 से 39 साल के बीच हैं, पिछले दो सप्ताह में यहां किसी मरीज की मौत नहीं हुई. बता दें कि पिछले 18 महीनों में हुई कुल मौतों में बच्चों की हिस्सेदारी 17 फीसद है…

 

अब तक यहां कुल 10 लोगों की मौत हुई है. लेकिन इन्हें ओमिक्रॉन से नहीं जोड़ा गया है. मरने वालों की संख्या बढ़ सकती है. अगले दो सप्ताह में काफी हद तक पता चल जायेगा कि हालात कितने सुधर सकते हैं ये समझने के लिए इतना समय काफी है,,,,

  • https://todayxpress.com
  • LEAVE A REPLY

    Please enter your comment!
    Please enter your name here